Author: theomugobogobo2004

बेटी बचाओ = वंश बचाओ

बेटियाँ जो आगे चलकर एक बहन, एक पत्नी, एक बहू, एक माँ बनती है। जिसे हम घर की लक्ष्मी, अन्नपूर्णा और ना जाने कितने नामों से बुलाते है।
Read More

जागो, आओ और अपना दायित्व सम्भालो ॥

सबके जैसा दिखना बहुत आसान है, लेकिन सबसे अलग दिखना मुश्किल। सबसे अलग दिखने से ही हम एक नया पथ प्रदर्शक बन सकते हैं, क्योकि समाज में प्रतिनिधित्व
Read More